Rishi Sunak Biography in Hindi | ब्रिटिश PM ऋषि सुनक का जीवन परिचय.

ब्रिटिश PM ऋषि सुनक का जीवन परिचय | Rishi Sunak Biography in Hindi | Biography | जीवनी | पत्नी , बच्चे , पेशा | Prime Minister of United Kingdom | England ke pradhanmantri Rishi Sunak 

 
ऋषि सुनक ब्रिटेन के वर्तमान प्रधानमंत्री (PM) है, जो कि भारतीय मूल के है। इनका जन्म 12 मई 1980 को  साउथेम्प्टन ,इंग्लैण्ड में हुआ था। इनके पिता जी का नाम यशवीर सुनक और माता जी का नाम उषा सुनक है। ये भारतीय मूल के पंजाबी हिन्दू है। इनके पिता जी का जन्म केन्या में हुआ था और माता जी का जन्म तंजानिया में हुआ था। इनके पिता जी एक डॉक्टर थे ,और माता जी एक फार्मासिस्ट हैं। 


Pic Source :- Aaj Tak

बाल जीवन एवं शिक्षा  :

ऋषि सुनक का जन्म 12 मई 2022 को इंग्लैंड के साउथेम्प्टन नाम के शहर में हुआ। इनका बचपन इसी शहर में बीता। ऋषि ने अपनी पढ़ाई विनचेस्टर कॉलेज से पूरी की थी। इन्होने दर्शन शास्त्र , राजनीती , और अर्थशास्त्र की पढ़ाई लिंकन कॉलेज , ऑक्सफ़ोर्ड से पूरी की। स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से इन्होने MBA पूरा किया। 

वैवाहिक जीवन :

ऋषि जी का विवाह 2009 में भारत की टेक कम्पनी इंफोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति की बेटी के साथ हुआ। इनकी पत्नी का नाम अक्षता सुनक है।अक्षता और ऋषि जी का मुलाकात स्टैनफोर्ड में MBA की पढ़ाई के दौरान हुआ था। अक्षता कटमरैन वेंचर्स में महानिदेशक के रूप में कार्य करती है। ये अपना खुद का फैशन डिजाइनर का काम भी करती है। 

भाई एवं बहन :

ये तीन भाई - बहन है , जिनमे से सबसे बड़े ऋषि सुनक जी है। इनके भाई संजय सुनक जो कि एक मनोवैज्ञानिक है तो बहन राखी विदेश में राष्ट्रमंडल और विकास कार्यकाल में मानवीय ,शांति निर्माण ,संयुक्त राष्ट्र के फंड और कार्यक्रमों के रूप में कार्य करती है।


नाम : ऋषि सुनक 
जन्म तारीख : 12 मई 1980
जन्म स्थान : इंग्लॅण्ड 
उम्र : 42 
माता - पिता : उषा सुनक और यशवीर सुनक 
भाई -बहन : संजय सुनक , राखी 
पत्नी : अक्षता सुनक 
बच्चे : 2 बेटियां 
शिक्षा : MBA , दर्शन शास्त्र , राजनीति शास्त्र , अर्थशात्र 
नागरिकता : इंग्लॅण्ड 
धर्म : हिन्दू 
जाति : NA 
नेटवर्थ : NA 
व्यवसाय व् पेशा : राजनीती / प्रधानमंत्री 
राजनैतिक पार्टी : कंजर्वेटिव पार्टी 


ऋषि सुनक जी का कॅरियर:

जब भी किसी पड़ोसी देशों में बड़े चुनाव होते है ,तो उसका असर हमारे देश में भी महसूस किया जाता है। भारत देश के साथ सम्बन्ध रखने वाले दूसरे देशो में कोई ऐसा राजनेता आते हैं जो भारत के साथ अच्छे संबंध रखते है , तो उसका असर वैश्विक राजनीति पर दिखाई देता है। ऐसे ही एक नवयुवक राजनेता , इंग्लॅण्ड के वर्तमान नव निर्वाचित प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की कहानी आज हम हमारे इस आर्टिकल में पढ़ रहे हैं। 

ऋषि सुनक ने कैलिफोर्निया में एक अमेरिकी निवेशक निवेश बैंक ,गोल्डमैन मैक्स के लिए 2001 में एक विश्लेषक के पद के रूप में ने कॅरियर की शुरुआत किया। इसके बाद इन्होने 2004 में फंड मैनेजमेंट फर्म द चिल्ड्रेन इन्वेस्टमेंट फंड मैनेजमेंट TCI में काम किया।

ऋषि सुनक पढ़ाई लिखाई के बहुत ही शौकिन व्यक्ति थे। इन्होने 2006 में स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी से MBA की पढ़ाई पूरी की। शिक्षा के साथ - साथ इन्हे बिजनेस करने के शौक भी थे। ऋषि सुनक जी अपनी कड़ी मेहनत और लगन से व्यापर के क्षेत्र में सफलता प्राप्त किये। इन्हे बिजनेस और पढ़ाई दोनों के क्षेत्र में कई सारे अवार्ड से सम्मानित किया गया है।


ऋषि सुनक जी का PM बनाने तक का सफर :

ऋषि सुनक जी राजनितिक जीवन की शुरुआत 2014 में हुई।  इन्होने 2015 में पहली बार रिचमंड से आम चुनाव लड़े और बहुमत से जीत को हासिल किये। 2015 से लेकर 2017 तक संसद पद पर रहकर अच्छे काम किये और एक बड़ी प्रसिद्धि प्राप्त किये।

ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री बोरिक जॉनसन ने 2017 में ऋषि सुनक को ट्रेजर का प्रमुख सचिव नियुक्त किया। 2019 में ऋषि सुनक जी एक बार फिर से सांसद के रूप में बहुमत के साथ चुने गये। ऋषि सुनक जी 2020 में ब्रिटेन के Finance Minister चुने जाने के साथ - साथ ही , ये वंहा के लोकप्रिय राजनेता भी बन गए। 

जब 2020 में कोविड महामारी से सारी दुनिया जूझ रही थी तब ऋषि जी अपने देश के Finance Minister होने के पद को बखूबी से निभाया और देश की आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाये रखने में अथक प्रयास किये। 2021 में ऋषि जी में अपना तीसरा बजट पेश किया।

वर्तमान ही में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस ने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिये ।अक्टूबर 2022 को ऋषि सुनक को ब्रिटेन के 57वें प्रधानमंत्री के रूप में चुने गये । लिज़ ट्रस के इस्तीफे के बाद पेनी और ऋषि सुनक के बिच सासंद समर्थन में सुनक को 180 से अधिक सांसदों का सपोर्ट मिला। Rishi Sunak को ऑफिसियल ब्रिटेन के 57वें प्रधानमंत्री पद पर स्वीकार कर लिया गया।

ऋषि सुनक जी जिस तरह बिजनेस में अपना परचम लहराया था उसी तरह उन्होंने राजनीति में भी झंडे गाड़ दिए। वर्तमान में ऋषि जी 3 .1 बिलियन पौंड के Net Worth को मालिक है। अब ये ब्रिटेन के लोगो के लिए कुछ करना चाहते है। इसलिए इन्होने ब्रिटेन के कंजर्वेटिव पार्टी के साथ काम करना शुरू किया। इन्होने राजनितिक कॅरियर में बहुत से उतार  -चढ़ाव देखा। अंततः इन्होने October 2022 ब्रिटेन के प्राधनमंत्री पद को प्राप्त किया। 


ऋषि सुनक जी के कुछ अनसुनी - अनकही बातें :

ऋषि सुनक जी ने प्रधानमंत्री बनाने के बाद अपने लोगो से कहा कि  ....

"आप लोगो को ये बताना जरुरी है कि मैं आपके नए प्रधानमंत्री के रूप में आज यहाँ क्यों खड़ा हूँ ..... इस वक्त हमारा देश एक भयंकर आर्थिक संकट का सामना कर रहा है .....कोविड -19 महामारी के बाद के बुरे हालत अभी भी बने हुए है। यूक्रेन में पुतिन के युद्ध ने दुनिया भर के ऊर्जा बाजार को हिला दिया है ....इस युद्ध से सप्लाई चेन भी रुक गयी है..... मैं पहले अपने प्रधानमंत्री रहीं लिज़ ट्रस की तारीफ़ करना चाहूंगा..... वो गलत नहीं थी वो भी इस देश की तरक्की चाहती थी .... उनका मक़सद अच्छा था ....बदलाव लाने को लेकर उनकी कोशिशो की मैं तारीफ करता हूँ ..... लेकिन इस दौरान कुछ गलतिया भी हुई है .... ये किसी गलत  इरादे की वजह से नहीं हुआ..... मेरी पार्टी ने मुझे अपना नेता और आपका प्रधानमंत्री इसलिए बनाया है कि उन गलतियों को सुधारा जा सके ....और वो काम अभी से शुरू हो रहा है।"


हिन्दू संस्कृति से लगाव :

ऋषि सुनक के दादा और दादी भारतीय थे। सुनक के दादा जी जन्म ब्रिटिश शाशन वाले पंजाब में हुआ था। वंहा से 1930 के आस - पास में वे पूर्वी अफ्रीका चले गए और वंही बस गए। उनका पूरा परिवार हिन्दू धर्म को मानने वालों में से था , इसलिए सुनक जी भी हिन्दू धर्म में विशेष रूचि रखते हैं। 

विदेश में रहकर भी उन्होंने हिन्दू संस्कृति को नहीं छोड़ा है। ऋषि सुनक जी के पूर्वज पंजाब राज्य के एक पंजाबी हिन्दू ब्राह्मण परिवार से थे  इन्हे भारत के पवित्र ग्रन्थ भागवत गीता से खास लगाव है। ये अपने सारे कार्यो की शुरुआत हिन्दू धर्म के अनुसार करते है। ऋषि जी भले ही विदेश में पले - बड़े और वहाँ की शिक्षा भी लिए लेकिन इन्होने हिन्दू सभ्यता को नहीं छोड़ा है। यह तक की इन्होने अपनी शादी भी भारत में आकर भारतीय रीति रिवाज के अनुसार किये। इनकी दो बेटियाँ भी है।

इन सभी बातो से ये पता चलता है कि ऋषि जी अपने भारतीय सभ्यता को लेकर कितने भावुक है। ऋषि जी गौ पूजन में भी आस्था रखते है। ये भगवान गणेश के भी है उपासक ( पुजारी ) हैं और प्रतिदिन मंदिर भी जाते है। इन्होने गीता पर हाथ रखकर सांसद की शपथ भी ली है। गीता के उपदेशों पर ऋषि जी को पूरा विश्वाश भी है। और ब्रिटेन के लोग भी ऋषि सुनक जी पर पूरा भरोशा करते है। सुनक जी कहते है कि मुझे हिन्दू होने पर गर्व है।


ऋषि सुनक जी के परिवार की कहानी :

ऋषि जी के दादा - दादी पंजाब से अफ्रीका चले गये थे , जब भारत और पाकिस्तान अलग नहीं हुए थे। ऋषि सुनक जी के परिवार वाले भारतीय मूल के निवासी थे।  ऋषि सुनक के दादा अविभाजित भारत के पंजाब में गुंजरावाला शहर के रहने वाले थे। 1930 के दशक में पूर्वी अफ्रीका के कीनिया शहर में जाकर बस गए। उनकी माँ एक ऐसे परिवार से थी जो पंजाब से तंजानिया जाकर बस गयी। 

ऋषि जी के पिता यशवीर सुनक जी का जन्म कीनिया शहर में हुआ था। 1960 की दशक में ऋषि जी के दादा जी ने अपने परिवार के साथ ब्रिटेन में आकर बस गए। ऋषि के पिता जी एक डॉक्टर और माँ एक फार्मसिस्ट थी। ऋषि सुनक जी का जन्म 1980 में साउथेम्प्टन में हुआ था। ऋषि ब्रिटेन में ही पले - बड़े और अपनी शिक्षा भी पूरी किये। 

कुछ दिन पहले ही ऋषि जी उस जगह पर गए जहां पर उनके पता पिता रहते है और वहा जाकर वे वहाँ के लोगो से मिले और उनसे कहा कि --
"मेरे पिता जी एक डॉक्टर और मेरी माँ फार्मसिस्ट थीं और मैं साउथेम्प्टन में पला - बढ़ा और मैं खाली समय में अपनी माँ के शाप में काम करता था। मुझे अच्छा लग रहा है जब मैं अपने होमटाउन साउथेम्प्टन में आया हूँ। मेरी माँ यहा काम करती थीं। जिसके साथ में रहकर मैं बड़ा हुआ। ये सभी बाते उन्हाने अपने एक रिपोर्ट में कहा है।"


दोस्तों आज इंग्लॅण्ड और अन्य तमाम देशों में ऋषि सुनक जी के चर्चे हैं।  कौन है ऋषि सुनक ? क्या है उनकी जीवन की सच्चाई ? इत्यादि !!!

आज आप के सामने है इनकी सच्चाई , आप देख सकते हो कि ऋषि सुनक जी किस तरह अपने आपको इतना काबिल बनाया कि विदेश में रहकर वहा के सबसे अमिर बिजनेशमैन और वहा के प्रधानमंत्री पद को  प्राप्त किया। 

ये है एक सफल व्यक्ति की सफलता की कहानी।

ये कहानी है ऐसे लोगो के लिए है जो नए ज़माने की नई सोच रखते है। अगर लोग अपने कार्य के प्रति अपनी जिमेदारी निभाते है तो एक सफल व्यक्ति बनने से कोई रोक नहीं सकता और उस देश के विकाश को विकास करने से कोई नहीं रोक सकता।


धन्यवाद !!!!

Post a Comment

Thanks for your feedback !!!

Previous Post Next Post

Post Add1

After Post